भाभी ने मेरी मार दी-1

0
प्रेषक : विजय पण्डित हम दोनों पड़ोसी थे, एक ही कॉलेज में और एक ही क्लास में पढ़ते थे।...

सोनू से ननदोई तक-4

0
जैसे मैंने पिछले भाग में बताया कि :एक दोपहर मैं काले के साथ नंगी गन्ने के खेत में चुद रही थी तभी...

देखने-पढ़ने से मन नहीं भरता अब-3

0
प्रेषक : मुन्ना भाई एम बी ए लखनऊ 2-7-2010, समय: 9-30 शाम आज सुबह मैं जल्दी...

मस्त काम वाली सोना बाई

0
प्रेषिका : कामिनी सक्सेना सोना कई वर्षों से घर में नौकरानी का काम करती थी। नीरजा और करण पति...

अंग्रेजन को साड़ी पहनाई

0
प्रेषक : ऋषि मैं अन्तर्वासना का नया पाठक हूँ। कुछ कहानियाँ पढ़ने के बाद ऐसा लगा कि मुझे भी...

सास के साथ मस्ती

0
मेरा नाम राज है और मैं 28 साल का हूँ, दिल्ली का रहने वाला हूँ, मेरी शादी को हुए दो साल हो...

फ़ार्म हाउस में मम्मी

0
प्रेषक : विजय पण्डित मेरे पुरखे काफ़ी सम्पत्ति छोड़ गये थे। मेरे पिता की मृत्यु छः-सात साल पहले हो...

बारिश और दीदी

0
मेरा नाम राज है। मैं 21 साल का लड़का हूं। कहानी शुरु करने से पहले मैं बता दूं कि यह अन्तर्वासना पर...

जब मैं जिगोलो बना-2

0
मैं थोड़ा हैरान था, मैंने कहा- आप नाराज़ तो नहीं होगी? मुझको तो आप इस एक्ट्रेस से बहुत ज्यादा सेक्सी लग रही...

मेरी मंगेतर-2

0
प्रेषक : कर्ण कुमार कुछ दिन बाद मेरा जन्मदिन था। कोमल ने पूछा- क्या उपहार चाहिए?