प्रेषक : आसज़

मैंने कहा,”तुम कपड़े बदल आओ, मैं बरामदे में बैठ कर एक बीयर लेता हूँ ! और हाँ ! जब तुम तैयार हो कर बाहर आओगी तब तक मैं नग्न हो चुका हूँगा ! अब जैसे तुम ठीक समझो !”

उसने अपने को शान्त दिखाते हुए कहा,”धन्यवाद टिम !”

वह बेडरूम में चली गई और मैंने अपने कपड़े उतार कर दूर फेंक दिये, एक तौलिया, एक बीयर और अखबार पकड़ा और बाहर चला गया और वहाँ छोटी मेज पर बैठ गया।

मेरे जैसे न्यूडिस्ट आदमी को यह अच्छा लग सकता है- हवा में खुला शरीर, शांति, शहर के जीवन की परेशानी और तनाव से दूर ! मैंने अखबार पढ़ा, बीयर की चुस्की ली और मुस्कुराया।

“टिम?” करेन की अन्दर से आवाज आई,”मैं अब बाहर आ रही हूँ, क्या तुम शालीनता से बैठे हो?”

हम दोनों हँसे और मैंने उसे मूर्ख कहा।

फिर वह बाहर दरवाजे आई और पहला बड़ा झटका मिला। वह अपने हिंदेशियन वस्र में थी और अच्छी लग रही थी। वह मेज के दूसरी तरफ बैठ गई।

मेरा लिंग उसकी नजर से छिपा हुआ था, यह पहली बार था कि करेन अपने छोटे नग्न बैठे भाई से बात कर रही थी।

“तुम ठीक हो?” मैंने पूछा।

“हाँ !” उसने कहा,”तुम बस बिना कमीज के इस तरह बैठे अच्छे लग रहे हो और यह कोई बड़ी बात नहीं !”

“अच्छा है !”

“मैं देख रही हूँ तुमने अभी भी अपने आपको अच्छा और पतला रखा है ! कैसे रखा है इस आकार में अपने को? मुझे ईर्ष्या हो रही है !

“योग से !” मैंने कहा,”या शायद खानपान ! या दोनों ! पता नहीं ! अरे, तुम बहुत अच्छी लग रही हो बहन ! सच में..”

उसने खुद को संदेह से नीचे देखा, अपने हाथ और पैर खींचे।

“ओह, मैं भी काफी फिट हूँ,” उसने कहा,”लेकिन अभी भी स्तन और नितंब पहले जैसे नहीं रहे !”

“तुम ठीक हो !” मैंने कहा,”दोपहर के भोजन से पहले एक पेय लोगी?”

“अम्म ! ठीक है, एक बीयर ले सकती हूँ?” उसने कहा।

मैंने कहा,” वहाँ फ़्रिज़ में बहुत हैं ! अपने आप ही लेनी होगी।”

“अरे!” मैं एक मेहमान हूँ !” उसने मुँह फुलाया,”तुम मेरे लिए एक बीयर लेकर आओ !”

मैंने सोचा, ऐसे ही चला जाता हूँ ! और मैं जल्दी से खड़ा हुआ और पीछे मुड़ कर देखे बिना केबिन में चला गया।

कुछ क्षणों बाद में मैं बीयर लेकर वापस आ गया और उसको देने के लिए ठीक उसके सामने खड़ा था। इस समय वहाँ कोई अवरोध नहीं था कि वह मेरे लिंग और अण्डकोश जो उसके चेहरे से केवल 2 फीट की दूरी पर थे, न देख सके।

अब वहाँ सब खुल चुका था ! मैने सोचा और मेरी सीट पर फिर से बैठ गया।

हम चुपचाप थोड़ी देर बीयर की चुस्कियाँ मारते रहे।

तब करेन ने कहा,”ठीक है ! मैं यहाँ हूँ और मैंने अपने छोटे भाई के लिंग को देखा !

और कहा।” अगर यह गलत है तो भी मुझे लगता है कि मैं इस तरह से अपनी छुट्टी बिता सकती हूँ।”

“फ़िर ठीक है !” मैंने कहा।

“हाँ !” वह मुझ पर मुस्कुराई और उत्सुकता से कहा,”यह कोई बड़ी बात नहीं है।”

“अरे, अपने आपको अपने निर्णय पर कायम रखना !” मैं हंसा,”चियर्स !”

हमने बोतलें आपस में टकराईं और फ़िर ठंडी बीयर पीने लगे, मैं उसे अपने साथ यहाँ लाने के विचार से सहज था।

करेन ने हमारे लिए एक प्यारा ताजा चिकन सैंडविच बनाया था जो हम फ़िर बीयर के साथ खा रहे थे और अब हम कोई शर्म महसूस नहीं कर रहे थे।

यह दोपहर के बाद का समय था और हमने बरामदे में बैठ कर बातचीत को जारी रखा।

“तो !” करेन ने कहा,”नग्नवाद के विषय में मुझे और बताओ !”

“मसलन ?”

“ठीक है, उदाहरण के लिए नग्नता में शिष्टाचार !” वह मेज पर झुकी।

और मैं समझ गया कि वो एक गहरी और सार्थक बातचीत करने को उत्सुक है।

मैंने किसी वेबसाइट पर तौलिए, पुरूष-लिंग-उत्थान, फोटो या घूरने आदि के बारे में पढ़ा है। लेकिन मुझे तुम बताओ कि क्या नग्नवाद शरीर के अंगों के उल्लेख की अनुमति देता है?

“दिलचस्प सवाल है !”मैंने कहा, “मुझे लगता है कि हम में से बहुत सारे लोग शरीर के अंगों के बारे में खुले तौर पर चर्चा को सहजता से नहीं लेते हैं। वैसे हमें अच्छी तरह से पता नहीं है, क्योंकि कुछ लोगों को लगता है कि हम उनके अंगों की चर्चा करके तस्वीरें खींच कर, घूर कर उनकी निजता भंग कर रहे हैं या हम बहुत ज्यादा विकृत मानसिकता के हैं।”

“फिर जाओ !” उसने बहस की,”शर्मीले भी हो और नग्न भी ! धूर्त कहीं के !” वह बीयर पीते हुए मुझ पर मुस्कुराई।

मैंने कहा,”कपड़े वालों से ज्यादा नहीं !”

“ओह क्या तुम सचमुच ऐसा कह सकते हो?” उसने पूछा,”क्या एक सामान्य रिसॉर्ट में कपड़े वाले व्यक्ति को एक दूसरे पर छींटाकशी करने की अनुमति है? तो तुम लोगो में और कपड़े पहने हुए लोगों में बडा अंतर क्या है?”

“कौन कहता है कि कपड़े पहने व्यक्ति को एक दूसरे पर छींटाकशी करने की अनुमति है?” मैंने पूछा।

ओह आप चारों ओर देखिए छोटे भाई !” वह हँसी,”क्या आपको लगता है कि मानव जाति यह लंबे समय तक चली होता अगर लोग एक दूसरे से न जुड़े होते? जहाँ में बैठी हूँ, एक “नग्न विश्व” में मानव जाति दो पीढ़ियों में खत्म हो जायेगी। कभी किसी को डेट पर बुलाने की हिम्मत भी नहीं रह जायेगी।

यद्यपि इस रिसॉर्ट में मैंने कुछ संबंध बनते हुए देखे थे, लेकिन फ़िर भी उसे ऐसा कुछ बताने से परहेज किया।

लेकिन मैं मानता हूँ कि उसका तर्क सही है। यह एक कारण है कि मैं यहाँ अकेले आने से नफरत करता हूँ क्योंकि आपसे बहुत कम व्यक्ति बात करना पसंद करेंगे। क्योंकि उनका मानना है एक अकेला पुरुष नग्न सिर्फ महिलाओं से संबंध बनाने का ख्याल अपने मन में लेकर आता है। और विडंबना यह है कि वहाँ बहुत ज्यादा अकेले रहने से बोर हो गए।

“तुम यहाँ बहुत कुछ देखोगी डॉ लेक्चरर !” मैंने अपनी पूरी गंभीर आवाज में कहा,”लेकिन तुम अपने उच्च स्तरीय धारणा से बाहर आने के लिए तैयार हो? या शायद आप डर रही हैं?”

“मुझे किसी बात से डर नहीं लगता है,” वह हँसी,”एक वस्त्रधारी के रूप में भी अगर मैं चाहूँ तो शरीर के अंगों का उल्लेख कर सकती हूँ।”

“ओह?”

“हाँ,” वह कृत्रिम रूप से मुस्कुराई,”उदाहरण के लिए तुम्हारा लिंग ! हम सब परिवार में हमेशा समझते रहे थे कि आपका बड़ा होगा, और अब मैं अपने परिवार में अकेली हूं जिसे पूरी सच्चाई का पता है- तुम्हारा लिंग सचमुच विशाल है।”

“ठीक है ! पर मुझ पर एक एहसान करो, यह बात गुप्त रखना !”

वह हँसी,”हाँ, जब से तुम पर यौवन आया, हम सब यह देख सकते थे। तुम 80 का दशक याद करो जब सभी स्ट्रेच जींस पहनते थे?”

“ठीक है ! ठीक है ! तो मेरा लिंग बहुत बड़ा है, आगे कहो !” मैं धीमे से हंसा।

“और मुझे लगा कि तुम खतनारहित थे?” उसने कहा।

“तो मैं खतनारहित ही हूँ, मैं सिर्फ उन लोगों में शामिल हूँ जिनकी आगे की चमड़ी अग्रभाग को नहीं ढकती है, आमतौर पर केवल आधे तक रहती है, और अगर मैं उत्थान में हूँ, चमड़ी पीछे हट जाती है तो सामान्य रूप में मैं खतना किया हुआ दिखता हूँ। बस मेरे लिंग पर एक लंबी चमड़ी नहीं है। समझी?” मैंने करेन को समझाया।

वह मेज पर जांच करने के लिए झुकी।

“ओह, मैं अब इसे देखना चाहती हूँ !” उसने कहा,”आपका गुप्तांग चमड़ी के लिए बहुत बड़ा है।”

“हाँ ! या कहें कि मेरे लिंग के लिए यह चमड़ी छोटी है..”

“तो यह कितना बड़ा है?”

“पता नहीं !” मैंने कहा,”कभी यह नहीं मापा !”

“झूठ बोल रहे हो तुम ! तुम मुझे एक भी आदमी ऐसा दिखाओ जिसने अपना लिंग मापा नहीं है !” वह हँसी।

“यहां अब यही कारण है कि नग्नतावादी शरीर के अंगों पर चर्चा नहीं करते है क्योंकि पुरुषों के लिए यह असंभव है कि उनके लिंग के बारे में कोई औरत चर्चा करे और पुरुष का खड़ा ना हो ! यह लगता है कि लिंग भी सुन रहा है और चाहता है जबकि उसकी चर्चा हो रही है तो यह सबसे अच्छा दिखे !”

और अभी मुझे लगा कि मेरा लिंग भी उत्थान के लिए तैयार हो रहा है, तो इस अप्रिय स्थिति से बचने के लिए मैंने खुद के लिए सोचा कि इस समय क्रिकेट के बारे में सोचना ठीक है।

मैंने करेन को अपने उत्थित लिंग को देखने से बचाने के लिए कहा,”ठीक है, यहाँ आपके आसपास बहुत सारे लोग हैं, अगर चाहो तो एक सर्वेक्षण कर सकती हो !”

वह मुस्कुराई,”मैं तुम्हारे बिना सर्वेक्षण करूंगी? तुम शायद सामान्य नहीं लग रहे हो?”

सच यह था कि मेरा लिंग अभी अर्द्ध उत्थित अवस्था में था और मैं मेज छोड़ना नहीं चाहता था, मैं नहीं चाहता था कि करेन मेरे उत्थित लिंग को देखे।

“ठीक है !” मैंने करेन को अपने से दूर करने के लिए कहा,”तुम छोटा रूमाल और कुछ पेय और सनस्क्रीन और अन्य सामान ले लो, जब तक मैं कार लॉक करता हूँ।”

वह केबिन के अंदर चली गई और मैं कार की ओर भागा। एक छोटे से ठहराव के बाद मेरा लिंग वापस लगभग पूरी तरह से ढीला पड़ गया था, हालांकि अभी मैं सुरक्षित था फिर भी किसी विपरीत स्थिति से निपटने के लिए मैंने कंधे पर एक तौलिया रख लिया ताकि अगर पुनः उत्थान हो तो मैं इसे ढक सकूँ।

करेन वापस बाहर आई, हिंदेशियन वस्र अभी भी उसकी जगह था और उसके सिर पर एक बड़ी टोपी और आंखों पर धूप का चश्मा था।

हम पूल की ओर की पगडंडी पर चले गये और वहाँ बाहर पहुँच कर घबराहट छुपाने के लिये करेन ने मेरा हाथ अपने हाथ में ले लिया और मुझे बताया कि वह वास्तव में घबराई हुई है नग्न लोगो को देख कर !

पूल-क्षेत्र लोगों से भरा था। परंपरा इस प्रकार है कि हर कोई पूल तक अपने मज़े के लिए अपने पेय लाता है। वहाँ वास्तव में दो पूल हैं, एक बडा, एक छोटा सा ! और 4 बड़े स्पा भी!

और वहाँ पर एक बडे शेड के नीचे बेंच, मेज, शावर और एक सॉना।

वहाँ करीब 20 लोग पहले से मौजूद थे। अधिकतर मध्यम आयु वर्ग के जोडे, जो सभी एक दूसरे काफी अच्छी तरह से जानते थे। मैंने उनके साथ परिचय करने के लिये कुछ को फ़टाफ़ट “हाय-हेलो” कहा।

हमने एक बेंच पर अपना सामान रखा और हमारे बाहर डेक पर सूरज की गर्मी लेने के लिये तौलिए बिछाए। हमारे सामने एक हमारी उम्र का पतला गंजा आदमी अपनी एशियाई पत्नी के साथ बैठा था। वे दोनों खुजलाने के एक खेल पर ध्यान दे रहे थे, खेल रहे थे और उन्होंने एक संक्षिप्त मुस्कान से हमारा स्वागत किया। मैं उसकी पत्नी को सीधा नही देख रहा था लेकिन अपनी किताब के ऊपर से मैं देख सकता था कि उसने एक पैर अपने शरीर के नीचे दबा रखा था और जिस कोण से डेक पर मैं लेटा था वहाँ से एक सुंदर बाल रहित दरार का एक आदर्श दृश्य दिख रहा था। मैं समय समय पर इस पर नजर डाल लेता था पर विशेष रूप से नहीं, बस इसकी स्वच्छता और इसकी सुन्दरता को निहारने के लिये !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here